‘क्या तुझे अब ये दिल बताए’ फ़िल्म ‘सनम रे’ से लिरिक्स एंड गाने : फलक शबीर द्वारा गए गये इस गाने को कंपोज़ किया है अमाल मलिक ने जबकि सगीत लिखा है मनोज मुन्तशिर ने |

गायक :  फलक शबीर
संगीत:   मनोज मुन्तशिर
बोल:     अमाल मलिक
रिलीज़ कम्पनी : टी सीरीज

 

क्या तुझे अब ये दिल बताये
तुझपे कितना मुझे प्यार आये
आंसुओं से  लिख दूं मैं तुझको
कोई मेरे बिन पढ़ ही ना पाए

यूं रहूं चुप कुछ भी न बोलूं
बरसों लम्बी ननदें सो लूं
जिन आँखों में तू रहता हैं
सदियों तक वोआन्खें न खोलूं

मेरे अंदर खुदको भर दे
मुझको मुझसे खाली कर दे (2)

जिस शाम तू ना मिले
वोह शाम ढलती नहीं
आदत सी तु बन गयी है
आदत बदलती नहीं…

क्या तुझे अब ये दिल बताये
तेरे बिना क्यूँ सांस न आये
आंसुओं से लिख दूं मैं तुझको
कोई मेरे बिन पढ़ ही ना पाए

मेरे अंदर खुदको भर दे
मुझको मुझसे खाली कर दे (2)

हाथों से गिरने लगी
हर आरज़ू हर दुआ
सजदे से मैं उठ गया
जिस पल तु मेरा हुआ (2)
क्या तुझे अब ये दिल बताये
क्यों तेरी बाहों में ही चैन आये
आंसुओं से लिख दूं मैं तुझको
कोई मेरे बिन पढ़ ही ना पाए

कोई मेरे अंदर खुदको भर दे
मुझको मुझसे खाली कर दे (2)

आ…

ओ ओ आ ओ…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here