स्वाद एवं सेहत से भरपूर जामुन के 6 हेल्थ बेनिफिट्स

स्वाद एवं सेहत से भरपूर जामुन के 6 हेल्थ बेनिफिट्स
स्वाद एवं सेहत से भरपूर जामुन के 6 हेल्थ बेनिफिट्स

गर्मियों का मौसम आते ही ढेर सारी शिकायतें भी अपने साथ ले आती हैं | दिन-प्रतिदिन गर्मी में हो रही बेतहासा वृधि के फलस्वरूप आज  लू, सनबर्न एवं ढेर सारी बीमारियाँ लोगों को अपनी चपेट में ले रही है | ऐसे में अपनी सेहत के प्रति ध्यान देना काफी हद तक मुश्किल हो जाता है | मगर गर्मियाँ आते ही मार्किट में जामुन की भी भरमार हो जाती है | स्वाद एवं मिनरल्स से भरपूर जामुन को कौन नहीं पसंद करता | मुझे आज भी वो दिन याद है जब मैं बचपन में घर से झूठ बोल कर जामुन तोड़ने चला जाता था | भाई जामुन है ही ऐसी चीज |

झुलसाने वाली गर्मी के बीच जामुन न सिर्फ हमारी स्वाद ग्रंथियों को राहत देता है | इसके अलावा जामुन के और भी कई हेल्थ बेनिफिट्स हैं | आइऐ डालते हैं एक नज़र

1. इम्युनिटी एवं हड्डियों की स्ट्रेंग्थ को बढ़ाने में सहायक: जामुन में प्रचुर मात्रा में कैल्शियम , आयरन, पोटैशियम एवं विटामिन C पाया जाता है जो की आपके इम्युन सिस्टम को मजबूत बनाने में काफी मदद करता है | इसके अलावा हड्डियों की स्ट्रेंग्थ बढ़ाने में भी इन मिनरल्स का काफी योगदान होता है |

2. रखे हार्ट डिजीज से कोसो दूर: Ellagic acid/ellagitannis, anthocyanis एवं anthocyanidins जैसे पोषक तत्वों की मौजूदगी की वजह से जामुन काफी अच्छा एंटीऑक्सीडेंट होता है | इन तत्वों की मौजूदगी की वजह से कोलेस्ट्रोल के ऑक्सीडेशन में सहायता मिलती है एवं प्लाक फार्मेशन भी कम होता है… इसके अलावा जामुन में पोटैशियम भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो की हाइपरटेंशन के रिस्क को भी घटाता है |

3. इन्फेक्शन से बचाए : जामुन के फल के अलावा जामुन की पत्तियां,छाल एवं बीज में भी भरपूर मात्रा में malic acid, gallic acid, oxalic acid एवं tannins पाया जाता है जो की काफी अच्छा एंटी बैक्टीरियल होता है | ये छोटे-मोटे इन्फेक्शन से बचाने में काफी मदद करता है |

4. कैंसर के रोकथाम में लाभदायक: शोध में पाया गया है की जामुन में कई ऐसे पोषक तत्व पाये जाते हैं | जिनमे कीमोप्रोटेक्टिव प्रॉपर्टीज होते हैं | ये कैंसर के रोकथाम में काफी लाभदायक होते हैं | इसके अलावा हार्मफुल रेडिएशन्स से बचाने में भी जामुन एक अहम् रोल अदा करता है |

5. पाचन एवं ओरल हेल्थ में लाभदायक : आदि काल से ही एंटी बैक्टीरियल प्रॉपर्टी होने की वजह से जामुन के पत्तो को पिस कर मुँह के अलसर एवं अन्य विकारों में प्रयोग किया जाता आ रहा है | डायरिया में भी जामुन का इस्तेमाल किया जा सकता है |

6. डायबिटिक पेशेंट के लिए रामबाण : शोध के अनुसार ये बात सामने आई है की जामुन मधुमेह में काफी लाभप्रद होता है | जामुन के बीज़ में पाए जाने वाले मिनरल्स से ब्लड सुगर लेवल को 30% तक कम किया जा सकता है इसके अलावा डायबिटिक मेडिसिन्स के हार्मफुल साइड इफ़ेक्ट को रोकने में जामुन काफी हद तक कारगर साबित हो सकता है |

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here