समय से पूर्व जन्मे बच्चों बच्चो के माँ-बाप करते हैं ज्यादा परवाह

समय से पूर्व जन्मे बच्चों बच्चो के माँ-बाप करते हैं ज्यादा परवाह
समय से पूर्व जन्मे बच्चों बच्चो के माँ-बाप करते हैं ज्यादा परवाह

नौ महीने तक अपने गर्भ में पालने-पोषने के बाद एक ऐसा मौका आ ही जाता है जव डिलीवरी हो | घर में बधाई देने वालो का ताँता लग जाता है एवं माँ-बाप की खुशियों के तो क्या कहने | अपने बच्चो के प्रति माँ-बाप के प्यार को परिभाषित करने हेतु हमारे पास ऐसे शब्द कहाँ मगर ब्रिटेन के शोधकर्ताओं द्वारा हाल ही में प्रकाशित एक रिपोर्ट की माने तो समय से पैदा होने वाले बच्चों के मुकाबले समय से पूर्व पैदा होने वाले बच्चों को लेकर माता-पिता अपेक्षाकृत अधिक चिंतित रहते हैं |

यूनिवर्सिटी ऑफ़ वारविक के शोधकर्ताओं ने अभी हाल ही में एक शोध में 31 हफ्ता या उससे पहले जन्मे 260 बच्चों के स्वास्थ्य का पुरे समय में जन्मे 229 लोगो के स्वास्थ्य के साथ तुलनात्मक शोध करते हुए उक्त बाते कहीं |

शोध में दृष्टि, सुनने की क्षमता, वाणी, दर्द का एहसास एवं भावना जैसे मुद्दों को अध्यन कर इन बातो की जानकारी दी गयी की समय से पहले जन्म लेने वाले बच्चों के प्रति मा-बाप ज्यादा चिंतित होते हैं |

इन नतीजो से ये स्पष्ट होता है की समय से पहले जन्मे बच्चों को स्वास्थ्य-समस्याओं का ज्यादा जोखिम होता है और बचपन में उनकी स्वास्थ्य संबंधी जीवन गुणवत्ता लेवल उतनी विकसित नहीं होती अतः उन बच्चो के प्रति माँ-बाप विशेष चिंतित रहते हैं |

हेल्थ से जुड़े आलेख पढ़ने के लिए बने रहिये हमारे साथ >> Trendinghour Health Tips in Hindi <<

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here