नैनीताल – झीलों के शहर की सैर (Nainital Details in Hindi) : यूँ तो भारत में घूमने की अनेकों जगह है लेकिन नैनीताल का क्या कहना यह एक ऐसी जगह है जहाँ सबसे अधिक झीलें हैं। यह घूमने के लिए बहेद रोमांचक जगह है। आइये आपको बताते हैं नैनीताल के बारे में…

Nainital Details in Hindi :

क्यों है नैनीताल बेहद खास –

नैनीताल को झीलों का शहर भी कहा जाता है क्योंकि यहाँ साठ से अधिक छोटी बड़ी झीलें हैं। ये सब बेहद सुदंर व मनमोहक है। इन झीलों को बेहद खूबसूरत छोटे-बड़े पहाड़ों व पेड़-पौधों ने घेर रखा है। जिन लोगों को प्रकृति से बहुत प्रेम है उन्हें यह जगह बहूत पसंद आती है। अगर आप भी एक प्रकृति प्रेमी हैं तो आपको इस जगह पर धूमने जरुर जाना चाहिए।

नैनीताल में कौन-कौन सी जगह है बेहद आकर्षण का केंद्र

  • नैनी झील-

यह अत्यंत खुबसूरत झील है जो आप का दिल मोह ले गयी। यह नैनीताल के मध्य में स्थित है। इस झील में आप नौका विहार का आनन्द भी उठा सकते हैं।

  • टिफिन टॉन-

टिफिन टॉन को डोरोथी सीट के नाम से भी जाना जाता है। यह एक पिकनिक स्पॉट है। आप यहाँ अकेले भी काफी समय बिता सकते हैं। यह पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र है। इसकी रूप रेखा एक अंग्रेजी कलाकर ने रखी थी। उसकी पत्नी डोरोथी केलेट इसी जगह पर विमान दुर्घटना में मारी गई थी। उसी की याद में डोरोथी के पति ने इस स्थान को एक सुंदर स्थान में बदल दिया।

  • नैना देवी मंदिर-

भारत में यह मंदिर बहूत प्रसिध्द है। यह मंदिर नैनी झील के पास स्थित है। मान्यता है जब शंकर जी माता सती का मृत शरीर कैलाश ले जा रहे थे तब उनके शरीर के कुछ हिस्सें पृथ्वी पर गिर गये थे। उनकी आँखें इसी स्थान पर गिर गई थी। फिर लोगों द्वारा इस जगह मंदिर की स्थापना कर दी गई। मंदिर में दो आँखें भी स्थापित है जो माता सती को दर्शाती है।

  • सात चोटियाँ-

नैनी पीक, किलवरी, लडिया काँटा, देवपाटा और केमल्सबौग, डेरोथीसीट व स्नोव्यू और हनी को सात चोटियों के नाम से जाना जाता है। यह सात चोटियों नैनीताल के सौंदर्य में चार चाँद लगाती है। यह अत्यंत सुंदर है। यहाँ से नैनीताल का अत्यंत सुंदर व मनमोहक नजारा नजर आता है।

  • सेंट जान चर्च इन वाइल्डरनेस-

यह नैनीताल का सबसे प्रसिध्द चिड़ियाघर है। यह अनेक प्रकार की प्रजातियों के जीव-जंतु रहते हैं जो पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बने रहते हैं।

  • रोपवे-

अगर आप नैनीताल जाते हैं तो रोपवे कार का मजा लेना न भूलें। इसमें यात्रा करने का अपना ही आनंद है। रोपवे कार से नैनीताल का अद्भूत नाजारा नजर आता है। रोपवे कार में एक बार में 10 से 12 लोग बैठ सकते हैं।

कैसे पहुँचें नैनीताल –

नैनीताल वायु मार्ग, सड़क मार्ग व रेल मार्ग तीनों मार्गों से पहुँचा जा सकता है। अगर आप हवाई जहाज से यात्रा करना चाहते हैं तो नैनीताल के सबसे निकट पंतनगर विमानक्षेत्र हवाई अड्डा पड़ता है। यदि आप रेल यात्रा से जाना चाहते हैं तो काठगोदाम रेलवे स्टेशन सबसे नजदीक है।

तो फिर क्या आप तैयार हैं नैनताल की यात्रा पर जाने के लिए…तो देर किस बात की है अपनी टिकट्स जल्दी बुक करायें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here