नई दिल्ली : आज का दिन कन्हैया और उनके समर्थकों के लिए राहत का दिन रहा, दिल्ली हाईकोर्ट ने कन्हैया को बड़ी राहत देते हुए 10,000 रुपये के मुचलके पर छह महीने की अंतरिम जमानत दे दी |

हाईकोर्ट ने जमानत की शर्तों में कहा कि JNU के अध्यक्ष कन्हैया कुमार को जांच में सहयोग करना होगा।

इससे पहले सोमवार को हुई सुनवाई में न्यायमूर्ति प्रतिभा रानी ने जेएनयू कैंपस के भीतर बीते नौ फरवरी को हुए कार्यक्रम में भारत विरोधी नारेबाजी के आरोपों का सामना कर रहे कन्हैया की जमानत याचिका पर तीन घंटे तक सुनवाई के बाद अपना आदेश सुरक्षित रख लिया था।

गौरतलब है की कन्हैया कुमार के उपर आईपीसी की धारा 124 ए (देशद्रोह) और 120 बी (आपराधिक साजिश) के तहत दर्ज मामले में उन्हें 12 फरवरी को गिरफ्तार किया गया।जज द्वारा दिए गए जमानत आर्डर में बॉलीवुड की मसहूर गाने “मेरे देश की धरती सोना उगले” का जिक्र किया है|

न्यायमूर्ति प्रतिभा रानी ने कहा “इस बसंत ने जेएनयू के शांति के रंग को क्यों दूर कर दिया, वहां के टीचर और विद्यार्थी इसका उत्तर देंगें|”

जमानत आर्डर कन्हैया कुमार का
कन्हैया कुमार का जमानत आर्डर

गौरतलब है की कन्हैया ने इस मामले में गिरफ्तार किए गए दो अन्य आरोपी उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य से अपने को अलग कर लिया था। हियरिंग के दौरान दिल्ली सरकार के वकील ने कन्हैया को जमानत देने को अनुरोध किया।

 

हिंदी खबर से जुड़े अन्य अपडेट लगातार पानेे के लिए हमें फेसबुक ,गूगल प्लस और ट्विटर पर फॉलो करे

Image is a file pic

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here